अलीराजपुर। लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर अवैध मदिरा धारण, परिवहन, चौर्यनयन एवं विक्रय के विरुद्ध चलाए जा रहे सघन तलाशी अभियान के तारतम्य मे अलीराजपुर कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी श्री शमीम उद्दीन के निर्देश व सहायक आयुक्त आबकारी नागेश्वर सोनकेशरी के मार्गदर्शन में जिला आबकारी दल द्वारा मादक पैय पदार्थ का अवैध परिवहन करते हुए दो दुपहिया वाहन जप्त किये गए। अलीराजपुर रोड सोरवा में सुखराम पिता दुरसिह निवासी ग्राम खंडाला के अधिपत्य से वाहन क्रमांक एम पी 46 एमके 8143 पर दो जरी केन मे लगभग 35 लीटर मादक पेय पदार्थ एवं चंदर सिंह पिता खुमसिंह निवासी ग्राम जवानिया के पास वाहन क्रमांक एमपी 69 एमए 7228 से दो जरी केन मे लगभग 37 लीटर मादक पैय पदार्थ परिवहन करते हुए पकड़ा गया।
      इस प्रकार अलीराजपुर आबकारी विभाग द्वारा सोरवा क्शेत्र मे कार्यवाही करते हुए म. प्र.आबकारी अधिनियम की विभिन्न धाराओं मे कुल 2 प्रकरण कायम कर 2 वाहन सहित लगभग 72 लीटर मादक पेय पदार्थ जप्त किया गया। जप्त अवैध मदिरा एवं वाहनों का बाजार मूल्य लगभग 86 हजार रूपये है। इस कार्यवाही में आबकारी उपनिरीक्षक सुनील कुमार मालवीय आबकारी आरक्षक कालु सिंह बघेल, कांतु डामोर, एवं नगर सैनिको का सराहनीय योगदान रहा।


अलीराजपुर जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें

अलीराजपुर। न्यायालय विहित प्राधिकारी, पंचायत राज अधिनियम एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री एमएल त्यागी ने ग्राम नानपुर निवासियों द्वारा ग्राम पंचायत सरपंच, सचिव पर विभिन्न मामलों में शिकायत की गई थी। उक्त शिकायतों की जांच और प्राप्त अभिमत तथा प्राप्त दस्तावेजों के आधार पर नानपुर संरपच श्री समरथ मौर्य के विरूद्ध म.प्र. पंचायत राज एवं ग्राम स्वराज अधिनियम 1993 की धारा 40 के तहत कार्रवाई करते हुए श्री मौर्य को ग्राम पंचायत नानपुर के पद से पदच्युत करते हुए आगामी 6 वर्ष के लिए अयोग्य घोषित किये जाने के आदेश जारी किये है। 
        उक्त प्रकरण में ग्राम नानपुर निवासियों की शिकायत के आधार पर श्री सरंपच श्री मौर्य द्वारा दुकान निर्माण एवं आवंटन में तथा हितग्राही चयन में, निलामी तथा विज्ञप्ति की नियमानुसार प्रक्रिया का पालन नहीं किया गया। प्राप्त शिकायतों की जांच के आधार पर पाया गया कि श्री मौर्य ने म.प्र. पंचायत (स्थावर संपत्ति का अंतरण) नियम 1994 के नियम 5 का उल्लंघन करते हुए स्वेच्छाचारिता से दुकानों का अंतरण किया जो कि अपने पदीय कर्तव्यों के निर्वहन में घोर उपेक्षा की श्रेणी में आता है। जिसके चलते श्री त्यागी ने म.प्र. पंचायत एवं राज स्वराज अधिनियम 1993 की धारा 40 के तहत कार्रवाई करते हुए नानपुर सरपंच श्री समरथ मौर्य को ग्राम पंचायत नानपुर के पद से पदच्युत करते हुए आगामी 6 वर्ष के लिए अयोग्य घोषित करने के आदेश जारी किये है। साथ ही ग्राम पंचायत सचिव के विरूद्ध नियमानुसार कार्रवाई हेतु प्रस्ताव प्रस्तुत करने के आदेश सीईओ जनपद पंचायत अलीराजपुर को दिये है। 

[right-side]
अलीराजपुर जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें

अलीराजपुर। नवीन संयुक्त कलेक्टोरेट कार्यालय अलीराजपुर को 9001 आईएसओ का प्रमाण पत्र मिला। गणतंत्र दिवस के अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कलेक्टर श्री शमीम उद्दीन एवं पुलिस अधीक्षक श्री विपुल श्रीवास्तव, विधायक श्री मुकेश पटेल, विधायक सुश्री कलावती भूरिया एवं आईएसओ प्रतिनिधि श्री जितेन्द्र खंडेलवाल ने आईएसओ 9001 का प्रमाण पत्र अपर कलेक्टर श्री सुरेश चन्द्र वर्मा एवं संयुक्त कलेक्टर श्री शैलेन्द्रसिंह सोंलकी को वितरित किया।  
      उल्लेखनीय है कि आईएसओ प्रमाण पत्र प्राप्ति हेतु जिला प्रशासन द्वारा विशेष प्रयास किये गए है, जिसके तहत आमजन को बेहतर सेवाएं प्रदान करने एवं कार्यालयीन व्यवस्थाओं और दस्तावेजीकरण के लिए विशेष प्रयास किये गए। उक्त सम्मान पर समस्त अधिकारी-कर्मचारीगण ने हर्ष व्यक्त किया है।

[left-side]

अलीराजपुर जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें

अलीराजपुर।  कलेक्टर शमीम उददीन द्वारा जिला चिकित्सालय पहुंचकर आकस्मिक निरीक्षण किया और मरीजों को जिला अस्‍पताल में उपलब्‍ध कराई जा रही स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाओं का जायजा लिया। उन्‍होंने औषधि भंडार का निरीक्षण कर उपलब्ध दवाईयों की जानकारी ली और निर्देशित किया कि समस्त जीवन रक्षक औषधियां पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हो। प्रत्येक व्यक्ति को निःशुल्क एवं गुणवत्ता पूर्ण दवाईयां उपलब्ध हो। इस दौरान कलेक्टर ने कार्यालय के पास रखी अनावश्यक सामग्रियों को हटाने के निर्देश दिये। 
          उन्‍होंने ओ.पी.डी. एवं ट्रामा सेन्टर का निरीक्षण कर चिकित्सकों एवं पैरामेडिकल स्‍टॉफ को निर्देशित किया कि समय पर उपस्थित हो तथा अपनी सीट पर बैठकर प्राथमिकता के आधार पर मरीजों की स्‍वास्‍थ्‍य जांच और उपचार करें। कलेक्‍टर ने मरीजों और उनके सहयोगियों के साथ अच्‍छा व्यवहार करने तथा तत्काल चिकित्सकीय सुविधाएं उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। 
       कलेक्‍टर  ने सिविल सर्जन को निर्देशित किया कि वे प्रतिदिन हॉस्पिटल का निरीक्षण कर सुधारात्मक कार्यवाही करें। इस अवसर पर पत्रकारों से चर्चा में कलेक्टर ने बताया कि अस्पताल में आवश्यक सुविधाए जनसहयोग से जुटाई जायेगी तथा चिकित्सकों की पूर्ति के लिये शासन स्तर से मांग की जायेगी। साथ ही स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर करने का प्रयास किया जायेगा।











अलीराजपुर जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें

अलीराजपुर। ओडीएफ की गुणवत्ता एवं स्थायीत्व पर आधारित दो दिवसीय जिला स्तरीय प्रशिक्षण का शुभारंभ कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी श्री शमीम उद्दीन एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री एम.एल त्यागी ने किया। उक्त प्रशिक्षण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कलेक्टर श्री शमीम उद्दीन ने कहा खुले में शौच मुक्ति ओडीएफ का जिले को जो सम्मान मिला है उस सम्मान को बरकरार रखना हम सबकी जिम्मेदारी है। इसके लिए हमें सतत प्रयास करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा खुले में शौच मुक्ति व्यवहार परिवर्तन से जुडा विषय है। इसके लिए समाज के प्रत्येक वर्ग को लगातार प्रयास करने की आवश्यकता है।

        उन्होंने कहा ओडीएफ को बरकरार रखने हेतु लगातार प्रयास करते हुए आमजन के साथ-साथ, जनप्रतिनिधिगण, आमजन, समूहों की महिलाओं, स्कूली बच्चों एवं सभी स्तर पर भागीदार व्यक्तियों को जोडकर लगातार प्रयासों को बल देना होगा। स्कूली बच्चों की भागीदारी और सक्रियता से ओडीएफ को बरकरार रखने में सहभागी बनाया जाए। इस अभियान से स्कूली बच्चों को विशेष रूप से जोडा जाए। प्रशिक्षण को संबोधित करते हुए जिला पंचायत सीईओ श्री त्यागी ने अलीराजपुर जिले में खुले में शौच मुक्ति हेतु किये गए प्रयासों और आमजन की भागीदारी के तहत हुए प्रयासों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने अलीराजपुर जिले में ओडीएफ हेतु किये गए प्रयासों के लिए अपनाई गई प्रक्रिया के बारे में जानकारी दी। साथ ही उन्होंने ओडीएफ कार्य की नियमित मॉनिटरिंग के बारे में भी बताया। 
       इस अवसर पर यूनिसेफ के श्री अजय कोहरे ने खुले में शौच मुक्ति हेतु किये गए प्रयासों के बारे में बताया। प्रशिक्षण में उपस्थित प्रतिभागियों ने भी अपने अनुभव बताए। उक्त प्रशिक्षण में जिले के प्रत्येक जनपद से ओडीएफ की गुणवत्ता एवं स्थायीत्व हेतु आगामी दिनों में किये जाने वाले प्रयासों का प्रशिक्षण लेने हेतु प्रतिभागी उपस्थित हुए। प्रशिक्षण का शुभारंभ मां सरस्वती एवं महात्मा गांधी के चित्र का पूजन, पुष्पमाला एवं दीप प्रज्जवलन के साथ किया गया। कार्यक्रम में एसबीएम के जिला समन्वयक श्री सुनील मुजाल्दा ने स्वागत उद्बोधन व्यक्त किया। प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत प्रशिक्षणार्थीगणों को विभिन्न माध्यमों से ओडीएफ की गुणवत्ता एवं स्थायीत्व हेतु किये जाने वाले प्रयासों और समुदाय को किस तरह से इसके लिए सहभागी बनाया जाए। इसके बारे में विस्तार से जानकारी एवं पॉवर पाइंट प्रेजेन्टेशन के माध्यम से बताया गया।

अलीराजपुर-ओडीएफ की गुणवत्ता एवं स्थायीत्व पर जिला स्तरीय प्रशिक्षण का कलेक्टर श्री शमीम उद्दीन ने किया शुभारंभ



अलीराजपुर जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें

Trending

[random][carousel1 autoplay]

More From Web

Asha News

{picture#https://3.bp.blogspot.com/-uo05gKyOF2s/Wy974bZMS3I/AAAAAAAAS40/P2L8VJGLgc0UUaMYjFl7jUfMmE0gOsKTgCK4BGAYYCw/s1600/ashanews.png} 'Asha News' established in Madhya Pradesh is an 24 hour's Satelite News channel & Hiring Hindi News paper authorized by Asha Group Pvt.Ltd. Its Beginning on July 2012 and its Headquarters are in Indore, Madhya Pradesh. In a very short Time this became Alirajpur's Most Popular Hindi News Portal & News Paper and Has Consistently Maintained its Reputation. {facebook#https://facebook.com/ashanewsindia} {twitter#https://twitter.com/ashanewsindia} {instagram#https://instagram.com/ashanewsindia} {youtube#https://youtube.com/ashanewsindia} {pinterest#https://pinterest.com/ashanewsindia}
Powered by Blogger.